chitfund News – 157 कंपनियों के खिलाफ प्रदर्शनज

 16 Sep 2013 पाकुड़: पिछले कई साल से पाकुड़ जिले में सक्रिय रही करीब 157 नॉनबैंकिंग कंपनियां जनता के करोड़ों रुपये लेकर चंपत हो गई हैं। कंपनियों ने यह राशि स्थानीय पांच सौ से अधिक एजेंटों के माध्यम से अपनी शाखाओं में जमा करवायी। यहां से पलायन कर चुके इन कंपनियों के एजेंटों ने सोमवार को शहर के झारखंड असंगठित कामगार मोर्चा के बैनर तले विशाल रैली निकाली। नेतृत्व मोर्चा के केंद्रीय अध्यक्ष प्रवाल पांडेय ने किया।समाहरणालय पहुंचे प्रदर्शनकारियों के एक शिष्टमंडल ने मुख्य मंत्री को संबोधित ज्ञापन उपायुक्त को सौंपा। ज्ञापन में कहा गया है कि
नॉनबैंकिंग कम्पनियों ने यहां से पचास करोड़ से अधिक की राशि लेकर चंपत हो गई है। जनता एजेंटों से पैसा लौटाने की मांग कर रही है। ज्ञापन में सरकार से कंपनियों से पैसा लेकर जनता को लौटाने की मांग की गई है। मोर्चा की ओर से यह रैली रथ मेला मैदान से निकाली गई ,जो राजापाड़ा, कालीतल्ला, तांतीपाड़ा, गाधी चौक से मुख्य सड़क होते हुए चार किलोमीटर दूर समाहरणालय पहुंची थी। रैली में शामिल एजेंटों ने देश का युवा यहां है, राहुल गांधी यहां है.. झारखंड का युवा रोता है, हेमंत सोरेन सोता है.. नॉनबैंकिंग कम्पनियों में जमा राशि वापस देना होगा आदि नारे लगा रहे थे। केंद्रीय अध्यक्ष पांडेय ने बताया कि मुख्यमंत्री को जनता का पैसा वापस कराने के लिए हस्तक्षेप करना चाहिए। उन्होंने कहा कि जनता का पैसा वापस कराने को लेकर चरणबद्ध आंदोलन किया जायेगा। इसके लिए तीन अक्टूबर को बैठक कर रणनीति बनायी जायेगी। इस आंदोलन में मुसलोद्दीन शेख, मनीरूल इस्लाम, काशीनाथ स्वर्णकार, सफी कुल शेख, जाकिर, मंजारूल, सेराजुल आदि सक्रिय थे।   Source-jagran.com

Written by Editor in Chief

Tags: 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*

%d bloggers like this: