अनचाही कॉल रोकने के सारे उपाय नाकाम

नई दिल्ली । किसी भी समय फोन और एसएमएस कर परेशान करने वाली टेलीमार्केटिंग कंपनियों पर लगाम लगाने की ट्राई और सरकार की तमाम कोशिशें बेअसर नजर आ रही हैं। इन कंपनियों की गतिविधियां बेरोकटोक जारी है। सरकारी आंकड़े खुद इस बात की गवाही दे रहे हैं कि भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण [ट्राई] और दूरसंचार विभाग [डॉट] गैर अधिकृत टेलीमार्केटिंग कंपनियों पर लगाम लगाने में पूरी तरह से मात खा गए हैं। इन कंपनियों के खिलाफ शिकायतें तीन गुना बढ़ चुकी हैं। डॉट के आंकड़ों के मुताबिक अगस्त, 2012 से अगस्त, 2013 के बीच टेलीमार्केटिंग कंपनियों के खिलाफ कुल छह लाख 27 हजार 384 शिकायतें मिली हैं। इससे पहले के वर्ष

की इसी अवधि के भीतर एक लाख 49 हजार 998 शिकायतें मिली थी। यह स्थिति तब है जब ट्राई ने इनके खिलाफ पाबंदी के लिए पिछले एक वर्ष के दौरान कई स्तरों पर कदम उठाए हैं। एक महीने पहले ट्राई ने टेलीमार्केटिंग के लिए कॉल करने या एसएमएस करने से संबंधित तीनों पक्षों (गैर-अधिकृत एजेंट, इन एजेंटों को ठेके पर रखने वाली कंपनी और जिस टेलीफोन कंपनी का नेटवर्क ये इस्तेमाल करते हैं) के खिलाफ कार्रवाई का नया कठोर दिशानिर्देश लागू किया है। मगर इसका भी असर होता नहीं दिख रहा है। बैंकों से लेकर बीमा कंपनियों तक के अनचाही कॉलों से आम जनता की परेशानी बढ़ती जा रही है।

डॉट के अधिकारी भी अब स्वीकार करने लगे हैं कि फोन पर परेशानी का सबब बने इन एजेंटों या कंपनियों पर लगाम लगा पाना नामुमकिन लग रहा है। एक अधिकारी ने बताया कि जब से इन कंपनियों के लिए पंजीयन को अनिवार्य बनाया गया है, तब से इन लोगों ने पंजीयन करवाना ही बंद कर दिया है। शिकायतें मिलने पर डॉट की पहल से टेलीफोन सेवा प्रदाता कंपनियों ने पिछले कुछ समय के भीतर तीन लाख से ज्यादा कनेक्शन बंद किया है।
सितंबर, 2011 से जुलाई, 2013 के बीच 15 टेलीमार्केटिंग कंपनियों को प्रतिबंधित किया गया है। 246 को नोटिस भेजा गया है और लगभग डेढ़ करोड़ रुपये की सिक्योरिटी राशि जब्त की गई है। इसके बावजूद शिकायतें कम नहीं हो पा रही हैं। अब व्यक्तिगत नाम पर लिए गए कनेक्शन के जरिये फोन किया जाने लगा है। शिकायत होने पर इन्हें आसानी से बंद कर दिया जाता है और किसी को कोई जुर्माना भी नहीं देना पड़ता। साथ ही टेलीमार्केटिंग कंपनियों को पंजीयन के लिए कोई शुल्क भी नहीं देना पड़ता। Source Jagran.com mlmguru.in

Written by Editor in Chief

Tags: 
Subscribe to Comments RSS Feed in this post

One Response

  1. sir irequest yuo i’m useing for mts telecom no 8456088816
    that is colling for me unlimited inevery day so i rquest yu contro thi s compuny

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*

%d bloggers like this: