५ करोड़ की ठगी के बाद शिकायतों का ठेर।

संदीप का सहारा नहीं लिए बिना अपने खाते में रूपए जमा कराये पर उनका खाता संदीप ने खोला था। पर वे रूपए डाकघर के काउंटर पर जमा करते थे फिर भी इनके खाते में रूपए नहीं है। इस घटना से डाक कर्मचारियों की मिली भगत साफ नजर आती है। नवदुनिया समाचार प्रकाशन के बाद पुलिस ने संदीप के ठिकानो से दस्तावेज जब्त किए
उधर संदीप का दावा है की। वह प्रत्येक खातेदार के रूपए लौटाएगा। पुलिस के पास अबतक ४१ लोग मदद के लिए गुहार लगा चुके है। पेटलावद के पोस्ट ऑफिस में बचत खाता ,आवर्ती खाता ,और एफडी खाता ,के माध्यम से एजेंट तथा पोस्ट ऑफिस कर्मचारियों व आधिकारियो की मिलीभगत सामने आ रही है।
और करोड़ की धोखाधड़ी सामने आने के बाद कई लोग डाकघर में जमा राशि की जानकारी लेने कई लोग आते है। संदीप ने डाकघर की अनेक योजनाओ का झांसा देकर आसपास के कई गाँवो में हजारो ग्राहक बना रखे थे
ठगी के शिकार लोगो में ३० लाख से लेकर ५ हजार रूपए तक के जमा राशि वाले लोग भी शामिल है।

Written by Editor in Chief

Tags: ,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*

%d bloggers like this: