Sai Prakash ने १० हजार करोड़ रूपये अपने निवेशकों को लौटाए।

sai छत्तीसगढ़ /राजनांदगांव शहरो से लेकर ग्रामीण क्षेत्रो के हजारो निवेशकों के करोड़ो रूपये चिटफंड कम्पनी साईं प्रकाश में लगे हुए है जिले के करीब १० करोड़ रूपये लोगो के फंसे हुए है। मध्यप्रदेश हाई कोर्ट ने कम्पनी को आदेशित किया है कि निवेशकों द्वारा लगाई गई राशि जल्द ही लौटाए इससे निवेशकों में उम्मीद तो जागी है पर कम्पनी कार्यकर्ताओ का अता – पता नही है। यह के ऑफिसो में महीनो से ताला लगा हुआ है ऐसी स्थित में रकम वापस कैसे होगी ये बड़ा सवाल बना हुआ है
प्राप्त जानकारी के अनुसार जबलपुर उच्च न्यायालय ने साईं प्रकाश कम्पनी को १० हजार करोड़ रूपये अपने निवेशकों को लौटने का आदेश दिया है। यह याचिका बालाघाट जिले के लांझी विधायक किशोर समरीत ने न्यायलय में दायर की थी। जिस पर सुनवाई के बाद यह फैसला दिया गया कि कम्पनी द्वारा प्रत्येक निवेशकों को ढूंढ कर सभी को पूरा पैसा लौटाए इसके लिए सभी जिले के SP को भी यह लिखित आदेश दिया गया है। भुगतान के लिए ग्राहक कम्पनी कार्यालय के चक्कर लगा रहे है।
पर कम्पनी कार्यालय ६ माह से बंद है कम्पनी द्वारा इसकी अभी तक कोई जानकारी नही दी गई है। साथ ही आसपास के अन्य कार्यालयों पर भी कोई सूचना नही है। तो ऐसी स्थित में सम्पर्क कैसे करे पुलिस के कुछ ग्रामीणो की शिकायत पर ठीक ७ माह पूर्व ३१ दिसम्बर को कम्पनी कार्यलय में छापामार कार्यवाही की थी जाँच के दौरान यहां के दस्तावेज अवैध पाये गए और कम्पनी मैनेजर बंसत देशलहरा को गिरफ्तारी के बाद जेल भी हुई। पुलिस द्वारा प्राप्त जानकारी में ७ माह पूर्व SDM बीएल गजपाल के साथ ASP शशिमोहन सिंह ने साईं प्रकाश चिटफंड कम्पनी के कार्यलय में दबिश देकर यहा के दस्तावेजो की जाँच की थी
जिसमे कम्पनी के पास १० हजार से अधिक ग्राहक थे इन सभी केयहाँ लगभग १० करोड़ रूपये जमा थे जाँच के दौरान कम्पनी कोई भी साक्ष्य प्रस्तुत नही कर सकी थी कम्पनी का पूरा काम SEBI के नियमो के विपरीत था इसके बाद साईं प्रकाश के मैनेजर बसंत देशलहरा को गिरफ्तार किया गया।
source;- www.mlmtimesofhindi.com

Written by Editor in Chief

Tags: ,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*

%d bloggers like this: